My Story

Josef Sekar “Birdman of Chennai”.

Josef Sekar "Birdman of Chennai".

चेन्नई में रहने वाले जोसेप सेकर पेशे से एक कैमरा मकैनिक है जो पिछले 10 सालों से पेराकीट्स को दाना खिला रहे हैं। सेकर को “बर्डमैन ऑफ़ चेन्नई” के नाम से मशहूर है।

सेकर दिन में दो बार पक्षियो को दाना डालते है। सेकर की इनकम का 40% हिस्सा पक्षियों के दाना पानी में चला जाता है। 

सेकर का कहना है कि “इनकी पूरी जिंदगी इन पक्षियों के इर्द-गिर्द घूमती है, इनका पक्षियों के अलावा और कोई नहीं है। पक्षियो को छोड़कर कहीं नहीं जाना चाहते। मैं करीब 25 साल पहले चेन्नई आया था। कैमरा मैकेनिक का काम शुरू किया। कुछ साल पहले आई सुनामी की वजह से जंगली तोता (parakeets) की आबादी कम होने लगी।”

जब उन्होंने कुछ पक्षियों को दाना डालना शुरू किया तो उनकी गिनती सेंकडो में थी। आज करीब 10,000 पक्षी उनके घर दाना चुगने आते हैं।

सेकर सुबह 4:30 बजे उठकर पक्षियों का दाना पानी तैयार करने में जुट जाते है। करीब 60 किलो चावल यानि 500 रुपये का खर्च प्रतिदिन पक्षियों पर कर देते हैं, अपनी कमाई का 40%।

आसपास के लोगों का कहना है कि इस तरह एक साथ हजारों पक्षियों का इकट्ठा होना अपने आप में एक आश्चर्य की बात है। पक्षियों के प्रति उनका इस तरह लगाव देखकर लोगों को बहुत प्रसन्नता होती है। 

सेकर का मानना है कि ईश्वर ने पक्षियो को पंख खुले आसमान में उड़ने के लिए दिए है ना कि एक छोटे से पिंजरे में रखने के लिए।

Josef Sekar, living in Chennai, is a camera mechanic from the profession, which has been feeding parakeets for the past 10 years. Sekar is known as “Birdman of Chennai”.

 Sekar gives food to the birds twice a day. 40% of its income goes into birds food.

Sekar says that “His entire life revolves around these birds, I have no more other than birds, birds also don’t want to go anywhere. About 25 years ago, I came to Chennai and started working as a camera mechanic. The population started decreasing because of the Tsunami that occurred some years ago. “

When he started feeding some birds, they were counted in hundreds. Today about 10,000 birds come to chase their house.

Sekar got up at 4:30 in the morning and prepare food for birds. About 60 kg of rice, which means  500 rupees per day, Sekar spend on birds. The surrounding people say that it is a wonderment to have thousands of parakeets gather in this way. People are very happy to perceive his attachment to birds like this.

Sekar believes that God has given birds to flight feathers in the open sky and not to keep them in a small cage.

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close